Latest Updates

Heath Tips

  • In enim justo, rhoncus ut, imperdiet a
  • Fringilla vel, aliquet nec, vulputateDonec pede justo,  eget, arcu. In enim justo, rhoncus ut, imperdiet a, venenatis vitae, justo.Nullam dictum felis eu pede mollis pretium.

Technology

कमलनाथ के मंत्री बोले कलेक्टर के पास गोली मारने का अधिकार,थप्पड़ नहीं

कमलनाथ के मंत्री बोले कलेक्टर के पास गोली मारने का अधिकार,थप्पड़ नहीं

मध्य प्रदेश के राजगढ़ में डीएम निधि निवेदिता के थप्पड़कांड पर राजनीति चरम पर है.
राजगढ़ कलेक्टर निधि निवेदिता पर कार्रवाई हो सकती है, गृहमंत्री ने दिए संकेत.

महिला अधिकारीयों की बहादुरी पर हमें गर्व है.( दिग्विजय )
अधिकारी यह न भूलें कि सरकारें पर्मानेंट नहीं होती हैं, वो बदलती हैं : शिवराज

गोविंद सिंह ने कहा कि कलेक्टर के पास लाठीचार्ज और गोली मारने का अधिकारी है, न कि थप्पड़ मारने का. राजगढ़ जिले की कलेक्टर निधि निवेदिता द्वारा एएसआई को थप्पड़ मारने के मामले में गृह मंत्री बाला बच्चन ने कार्रवाई के संकेत दिए हैं. बुधवार को मंत्री बच्चन ने कहा कि इस संबंध में हमें रिपोर्ट मिल गई है. मुख्यमंत्री के संज्ञान में भी मामला है. सभी जानते हैं कि कलेक्टर ने एएसआई को थप्पड़ मारा है. कानून अपना काम करेगा और जो भी कार्रवाई बनती है, वह होगी. दरअसल, राजगढ़ जिले की कलेक्टर निधि निवेदिता पर एएसआई को थप्पड़ मारने का आरोप प्रमाणित पाया गया है. डीजीपी वीके सिंह ने गृह विभाग क प्रमुख सचिव को पत्र लिखकर यह जानकारी दी. डीजीपी ने लिखा है कि कलेक्टर के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए. पुलिस सूत्रों का कहना है कि पुलिस चाहती तो इस मामले में सीधे कार्रवाई कर सकती थी, लेकिन मामला कलेक्टर से जुड़ा होने की वजह से सरकार को पत्र लिखकर इसकी जानकारी दी गई है. इस पत्र के बाद आईएएस एसोसिएशन और आईपीएस एसोसिएशन में मतभेद उजागर हो गए हैं.

राजगढ़ के ब्यावरा में 19 जनवरी को सीएए के समर्थन में रैली के दौरान ड्यूटी पर तैनात एएसआई नरेश शर्मा ने शिकायत की थी कि कलेक्टरने उन्हें थप्पड़ मारा है. एएसआई ने शिकायत में बताया था कि दोपहर 1 बजे वे ड्यूटी पर तैनात थे. उसी दौरान कलेक्टरआईं और उन्होंने गाड़ी का गेट खोलकर थप्पड़ मार दिया. कलेक्टर के इस व्यवहार से वह बहुत आहत हैं. इस शिकायत की जांच एसडीओपी सौम्या अग्रवाल ने की.जांच में शिकायत सही पाई गई. यह जांच रिपोर्ट पुलिस मुख्यालय भेजी गई थी.

पुलिस मुख्यालय ने पत्र लिखकर जांच रिपोर्ट के तथ्य सरकार को बताए हैं. उच्च पदस्थ सूत्रों का कहना है कि यह रिपोर्ट सरकार के पास पहुंच गई है.आईएएस एसोसिएशन ने भाजपा नेता को थप्पड़ मारे जाने के मामले में कलेक्टर का बचाव किया था. हालांकि, अब जांच रिपोर्ट के सवाल पर एसोसिएशन के पदाधिकारी कुछ भी बोलने तैयार नहीं हैं. पीएचक्यू की रिपोर्ट मिलने के बाद गृहमंत्री बाला बच्चनका कहना थाकि डीजीपी के पत्र के संबंध में उन्हें कोई जानकारी नहीं है. कलेक्टर ने भाजपा नेता और पटवारीको भी उसी दिन थप्पड़ मारा था.

नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में भाजपा की ओर से रैली निकाली गई थी. राजनीतिक बयानबाजी तेज होने और दबाव के बीच गृहमंत्री बाला बच्चन ने कार्रवाई की बात कही है. इसी बीच राज्य के सामान्य प्रशासन मंत्री गोविंद सिंह के बयान ने हलचल मचा दिया है. गोविंद सिंह ने कहा कि कलेक्टर के पास लाठीचार्ज और गोली मारने का अधिकारी है, न कि थप्पड़ मारने का. डीएम को थप्पड़ नहीं मारना था. हालांकि बाद में उन्होंने इसे अपना व्यक्तिगत विचार बताया. कहा कि कलेक्टर जैसे जिम्मेदार पद पर बैठे अधिकारी को संयम से काम लेना चाहिए.

क्या था पूरा मामला

नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिले के ब्यावरा में रैली निकाल रहे भाजपा कार्यकर्ताओं की कलेक्टर निधि निवेदिता से झड़प हो गई. कलेक्टर ने प्रदर्शनकारियों से ब्यावरा के कुछ इलाकों में धारा 144 लागू होने का हवाला दिया गया. जिससे आक्रोशित भाजपा कार्यकर्ता नारेबाजी करने लगे. इससे नाराज कलेक्टर निधि निवेदिता ने भाजपा जिला मीडिया प्रभारी रवि बड़ोने को थप्पड़ मार दिया. इसके बाद भी जब भीड़ ने नारेबाजी कम नहीं की तब उन्होंने एक पुलिसकर्मी का डंडा लेकर भीड़ को धक्का मारने लगीं.

कलेक्टर ने रैली की अगुवाई करते हुए तिरंगा लेकर चल रहे राजगढ़ के पूर्व विधायक अमरसिंह यादव के साथ भी धक्कामुक्की की. कलेक्टर को एक्शन में देखकर डिप्टी कलेक्टर प्रिया वर्मा ने भी भीड़ से लोगों को पकड़कर पुलिस को सौंपने लगीं. तभी उनके साथ भीड़ ने अभद्रता कर दी. जिसके बाद स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया. इस कार्रवाई में कई भाजपा कार्यकर्ता घायल हो गए.
महिला अधिकारीयों की बहादुरी पर हमें गर्व है : दिग्विजय
अधिकारी यह न भूलें कि सरकारें पर्मानेंट नहीं होती हैं, वो बदलती हैं : शिवराज

admin

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read also x