Entertainment

Heath Tips

  • In enim justo, rhoncus ut, imperdiet a
  • Fringilla vel, aliquet nec, vulputateDonec pede justo,  eget, arcu. In enim justo, rhoncus ut, imperdiet a, venenatis vitae, justo.Nullam dictum felis eu pede mollis pretium.

Education

INX Media Case मे अदालत ने CBI से आरोप पत्र के दस्तावेज चिदंबरम कार्ति को देने को कहा

INX Media Case मे अदालत ने CBI से आरोप पत्र के दस्तावेज चिदंबरम कार्ति को देने को कहा

INX Media Case मे अदालत ने CBI से आरोप पत्र के दस्तावेज चिदंबरम कार्ति को देने को कहा :

आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले मे अदालत ने CBI से आरोपपत्र के कुछ दस्तावेज चिदंबरम, कार्ति को देने को कहा विशेष न्यायाधीश अजय कुमार कुहाड़ नेआईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले की सुनवाई करते हुए CBI को यह निर्देश दिया.अदालत प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) की ओर से दायर धन शोधन के मुकदमे की भी सुनवाई कर रही थी.

नई दिल्ली की एक अदालत ने मंगलवार को सीबीआई (CBI) को आदेश दिया कि आईएनएक्स मीडिया (INX Media Scam) भ्रष्टाचार मामले में आरोपपत्र के साथ दाखिल दस्तावेजों में से कुछ दस्तावेज वह पी. चिदंबरम और उनके पुत्र कार्ति चिदंबरम को मुहैया कराये. विशेष न्यायाधीश अजय कुमार कुहाड़ ने आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले (INX Media Corruption Case) की सुनवाई करते हुए सीबीआई (CBI) को यह निर्देश दिया. अदालत, प्रवर्तन निदेशालय की ओर से दायर धन शोधन के मुकदमे (Money Laundering Case) की भी सुनवाई कर रही थी.

INX मीडिया भ्रष्टाचार मामले में 21 अगस्त को चिदंबरम को CBI ने किया था गिरफ्तार :

इस मामले की सुनवाई के दौरान चिदंबरम और उनके पुत्र अदालत में उपस्थित थे. आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले में सीबीआई ने 21 अगस्त को चिदंबरम को गिरफ्तार (Arrest) किया था. वहीं धन शोधन से जुड़े एक अन्य मामले में ईडी ने उन्हें 16 अक्टूबर को गिरफ्तार किया. छह दिन बाद 22 अक्टूबर को उच्चतम न्यायालय (High Court) ने सीबीआई की ओर से दायर मुकदमे में उन्हें जमानत दे दी.

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में चिदंबरम और कार्ति दोनों ही जमानत पर हैं बाहर :

ईडी (ED) के धन शोधन के मामले में 105 दिन बाद चार दिसंबर को न्यायालय ने चिदंबरम को जमानत दे दी. कार्ति भी दोनों मामलों में जमानत पर हैं. सीबीआई ने 15 मई, 2017 को आईएनएक्स मीडिया समूह को दी गई विदेश निवेश प्रोमोशन बोर्ड (Foreign Investment Promotion Board) की मंजूरी में कथित अनियमितताओं को लेकर मामला दर्ज किया था जिसके अनुसार, चिदंबरम के वित्त मंत्री रहते हुए मिली इस मंजूरी के माध्यम से आईएनएक्स मीडिया समूह ने विदेश से 305 करोड़ रुपये प्राप्त किए.
बाद में ईडी ने धन शोधन का मामला दर्ज किया था.

कोरोनावायरस:- वुहान से भारतीयों के साथ लौटे मालदीव के 7 नागरिक, चीन में अब तक 2110 लोगों की मौत

 

user

RELATED POSTS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read also x

Close Bitnami banner
Bitnami